7 रिस्क जो आपकी नौकरी के लिए बेहतर हैं

7 बड़े रिस्क जो लेने के बाद लोगों को बहुत फायदा हुआ

Zety संस्था द्वारा किये गए एक सर्वे के अनुसार अलग अलग क्षेत्रों के executives के जवाब इस प्रकार हैं। बहुत सारे लोगों ने स्वीकार किया कि Professional Success के लिए नीचे लिखे गए risks बहुत जरूरी हैं:

Advertisement

59% लोगों को नौकरी छोड़ने का दुख नहीं हुआ

सबसे पहली advice जो मैं दे सकता हूं, वह है नापसन्द job को छोड़ना। बहुत सारे लोग कई सालों यहाँ तक की 2 दशकों तक ऐसी नॉकरी से चिपके रहते हैं, जो उनको पसन्द नही होती है। कम्पनी की महीने में मिलने वाली salary और बदलाव का डर उनको आगे बढ़ने से रोकता है।

अगर आप उच्च स्तरीय कर्मचारी हो, लेकिन किसी ऐसी नॉकरी से चिपके रहते हो, जो आपको पसंद नहीं है, तो आप जल्द ही निचले स्तर पर चले जाओगे। और अंत मे सबकुछ छोड़ भी सकते हैं। लेकिन आपको छोड़ना नहीं है, अपितु बदलना है। एक सबसे बड़ी advice यह है कि “जिंदगी बहुत छोटी है” इसको अपनी मर्ज़ी से जिओ।

41% लोगों ने बोरिंग department या अपने कार्यक्षेत्र बदला

आप सोचते हैं कि अपने एरिया में रहकर आप सुरक्षित हैं। वास्तव में ऐसा नहीं है, एक जगह का ठहराव आपको कमजोर बना देता है, और आपके options को भी सीमित कर देता है। 

इसलिए समय के अनुसार परिवर्तन बहुत जरूरी है। Reliance का उदाहरण लें तो, यह एक तेल औऱ गैस की कम्पनी से अब एक digital कंपनी बन चुकी है। यह परिवर्तन ही Reliance की सफलता का मुख्य कारण है। इसलिये सबसे सुरक्षित है, सोच समझकर रिस्क लेने की क्षमता।

39% लोगों ने गलत के खिलाफ आवाज उठाई

हम सब सामने आने के डर से अपने ऑफिस में ग़लत कामों के बारे में बोलने से डरते रहते हैं। जिनका खामियाजा हम साल दर साल भुगतते हैं। गलत काम को उजागर करने के डर को खत्म करने के लिए अपने आप से दो सवाल करें:

  1. अगर मैं बोला तो बुरे से बुरा क्या हो सकता है
  2. अगर मैं नहीं बोला तो बुरे से बुरा क्या हो सकता है

इन दोनों सवालों के जवाब मिलने से आपको बोलने का साहस मिलेगा। हो सकता है आपके बोलने से कोई परिवर्तन ना हो, फिर भी आपको शांति की अनुभूति जरूर होती है। औऱ उस संस्था या जगह को छोड़कर आगे बढ़ने का एक कारण मिलता है। चाहे वह कोई गलत पालिसी हो या किसी कर्मचारी का ग़लत व्यवहार, हमें उसके बारे में बोलना चाहिए।

सैलरी कम मिलती है, बढ़ाने के लिए बात करो (34%)

नॉकरी करते करते हम, हर परिस्थिति में adjust करना सीख जाते हैं, जिसका प्रभाव हमारी मोल भाव करने की क्षमता पर पड़ता है। सैलरी बढाने के बारे में बात करना कभी भी ग़लत नही होता है, खासकर जब हम किसी जॉब को जॉइन करने जाते हैं। 

बहुत सारे लोग अपनी योग्यताओं को कम करके आंकते हैं, जिससे उनको अपने काम की सही सैलरी नहीं मिल पाती है।

पढाई कम लगती है, यही समय है आगे पढ़ने का (27%)

एक बार नॉकरी मिलने के बाद कर्मचारी पढाई को बोझ समझने लगते हैं। लेकिन यह आपकी ग्रोथ के लिए बहुत बड़ा कारण साबित हो सकता है। अगर आपको लगता है कि आगे पढ़ाई करनी चाहिए तो आपको उस फैसले का सम्मान करते हुए, स्कूल या कॉलेज में वापिस जाना चाहिए। मेरा एक सहकर्मी रोहित अग्रवाल 9 साल इंजीनियर की नॉकरी करने के बाद भी MBA करने के लिये IIM में एडमिशन लिया। फलस्वरूप वह आज 4 साल बाद एक MNC में Vice President है। ऐसा मुकाम जो मेरे वाली कंपनी में शायद 20 साल बाद भी हासिल नहीं कर पाता।

घर से दूर जाओगे, तो कुछ पाओगे (24%)

यह काम बहुत मुश्किल होता है, खासकर भारतीय लोगों के लिए। मैंने इसे सैंकड़ों जवान देखे हैं जो सिर्फ इसलिए नॉकरी को मना कर देते हैं क्योंकि उनको घर से दूर जाना पसंद नही होता। जबकि परिणाम इसके बिल्कुल विपरीत होते हैं। 

अगर आपको अपने घर और भविष्य को सुरक्षित रखना है, तो घर से बाहर जाने में नही घबराना चाहिए। एक बार अच्छे स्तर पर पहुँचने के बाद आप अपने घर, माँ बाप, परिवार और दोस्तों को मिलने के तरीके ढूंढ ही लोगे।

नॉकरी पसन्द नहीं, बिज़नेस शुरू करो (22%)

नॉकरी से मिलने वाली सैलरी और काम करने का ठहराव हमें निष्क्रिय कर देता है। अतः हम आने passion को भूल जाते हैं। सोचिए आप अपनी रिटायरमेंट के वक़्त क्या सोचना चाहते हो कि मैंने कुछ पैसे ज्यादा कमाने के लिए हमेशा दूसरों का बताया हुआ काम किया। या कुछ कम पैसे कमाए, पर मनपसंद काम किया। 

जाहिर है अपनी पसंद के काम से आपको ज्यादा सन्तुष्टि होती है। इसलिए अपने passion को जीने की कोशिश हमेशा होनी चाहिए। हो सकता है, शुरुआत में आपको परेशानी होगी औऱ नॉकरी से कम कमा पाओगे, लेकिन लंबे समय में यह आपको सन्तुष्टि और इनकम दोनों देता है।

निष्कर्ष

एक सर्वे में यह बात निकलकर सामने आई है कि नीचे लिखे रिस्क लेने के बाद बहुत सारे लोगों ने किसी पछतावे का अनुभव नहीं किया

  1. नापसन्द नॉकरी छोड़ना
  2. अपना कार्यक्षेत्र बदलना
  3. कार्यक्षेत्र में किसी समस्या को उजागर करना
  4. सैलरी बढ़ाने की बात करना
  5. जॉब छोड़कर पढाई करना
  6. काम के लिए घर से दूर जाना
  7. अपने passion के लिए नॉकरी छोड़ना

हमें सफल होने के लिए ज़िंदगी में सोच समझकर रिस्क लेने चाहिए। बदलाव से घबराकर किसी एक काम से ही नहीं चिपके रहना चाहिए।

Comments

  1. If you are going for most excellent contents like me,
    just go to see this web site every day because it gives feature contents, thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published.