Ways to Change Habits पुरानी आदतें बदलने के वैज्ञानिक तरीके

सबसे पहले अपने आप को ये समझाएं की आप किसी भी आदत को बदल सकते हैं। कुछ आदतें बहुत आसानी से और कुछ काफी मेहनत के बाद बदली जा सकती हैं। वैज्ञानिक शोध के अनुसार हमारे किसी व्यवहार को पूरी तरह से बदलने में 28 से 66 दिनों तक का समय लग सकता है। यह सब आपके प्रयास और आदत के स्तर पर निर्भर करता है।

Advertisement

किसी आदत को बदलने का process

हमारे द्वारा किये गए प्रयासों के परिणाम हमें कैसे मिलते हैं

किसी भी आदत को बदलने में हमे निराशा का सामना करना पड़ता है। हमारा दिमाग तुरंत परिणाम चाहता है (ऊपर वाले ग्राफ में लाल रेखा), लेकिन वास्तविकता में result एक सीधी रेखा में नही मिलते, बल्कि काफी उतार चढ़ाव के बाद मिलते हैं (ऊपर वाले ग्राफ में हरी रेखा)। जब हम “निराशा के समय” को पार कर लेते हैं, तब जाकर आदत को बदल सकते हैं।

आदते बदलने के लिए क्या करें

1. आदत के साथ जुड़ी हुई पहचान को बदलें

वास्तव में हमारी आदतें ही हमारी पहचान होती हैं। औऱ हमारी पहचान ही हमारी आदतें होती हैं। जो आदतें पहचान बन जाती हैं, उनको बदलना सबसे मुश्किल होता है।

यहां हमें परिणाम (आदत के result) और प्रक्रिया (आदत) पर नहीं अपितु पहचान बदलने पर काम करना है। अगर आप एक smoker हैं औऱ इसे छोड़ना चाहते हैं। इसके बजाय अपने आपके को याद दिलाते रहें कि आप एक non smoker हैं। सिर्फ इतना परिवर्तन ही आपको प्रक्रिया (आदत) और परिणाम बदलने में बहुत मदद करेगा।

2. बदली हुई आदत को बार बार करने की कोशिश करें

आदते बदलने में बार बार करना, लम्बे समय तक करने से ज्यादा महत्वपूर्ण है। जितनी ज्यादा बार आप किसी काम को करते हो, उतना जल्दी वह आपकी आदत बनता है।

  • एक्सरसाइज शुरू करनी है, तो सुबह शाम करें बजाए हफ्ते में एक बार करने के
  • Healthy खाना है, तो हर रोज़ खाने की कोशिश करें
  • Smoking छोड़नी है, तो हर रोज़ सुधार करते जाएं
https://hindireading.com/human-habits/how-to-stop-smoking-in-hindi/

3. थोड़ी परेशानी के लिये तैयार रहें

जब भी सालों या महीनों के तौर तरीकों को बदलते हैं, तो हमारे शरीर को adjust करने में परेशानी होती है।इसलिए छोटी मोटी परेशानी से घबराकर वापिस आदत को न पकड़ें। जैसे smoking छोड़ने पर हमें चिंता, तनाव, उदासी, कब्ज आदि हो सकते हैं, लेकिन ये ज्यादा समय तक नही रहेंगे। प्रयास जारी रखें, अंत मे आपको सफलता जरूर मिलेगी।

Advertisement

4. आदत के कारकों को दूर करें

किसी भी आदत के लिए संकेत, लालसा, प्रतिक्रिया और परिणाम जिम्मेदार होते हैं। चाहे आदत अच्छी हो या बुरी इन चार चरणों से होकर गुजरती है। बुरी आदत को बदलने के लिए

  • आदत के संकेत को जितना ज्यादा हो सके invisible बनाये, जैसे smoking के लिए smoking करने वाले दोस्तों से दूरी बनाएं।
  • लालसा को मुश्किल बनाये। smoking के लिए सिगरेट को हमेशा अपने पास न रखें। या अपने परिवार के सदस्यों की मदद लें, जो आपको सिगरेट से दूर रखने में मदद करेंगे।
  • प्रतिक्रिया को असम्भव बनाये। जब भी आपका स्मोकिंग करने का मन हो, कहीं टहलने निकल जाएं, या कुछ औऱ खा या पी सकते हैं। अगर हम कुछ देर के लिए भी प्रतिक्रिया को रोक सके, तो यह भी आदत को छोड़ने में बहुत मदद कर सकता है। प्रतिकिया बदलने के लिए हम किसी आदत को बदलने के लिए अपना response भी बदल सकते हैं। जैसे हमें बार बार और ज्यादा खाने की की आदत है, इसके लिए आप कम कैलोरी वाला खाना शुरू करदें, जिससे हम अपनी लालसा को भी शांत कर पाएंगे औऱ हमे नुकसान भी नहीं होगा।
  • परिणाम को बुरा बनाये। जिस काम के परिणाम बुरे होते हैं, वह काम हम दोबारा नही करते। इसलिय खुद को smoking के नुकसान के बारे में बताएं। या किसी परिवार के सदस्य को बोलें की smoking करने पर वह आपसे रुठ जाए, जिससे कि उस आदत परिणाम बुरा हो जाएगा।

क्या न करें

  1. आदत छोड़ने के लिए will power के भरोसे न रहें। will power से हम कुछ समय के लिए सिर्फ प्रतिकियाएँ control कर सकते हैं, लेकिन पहचान नहीं बदल सकते।
  2. आदतें बदलने के लिए भगवान या किस्मत के भरोसे न रहें। किसी परिणाम के पीछे कुछ न कुछ कारण होता है। उस कारण की पहचान करें औऱ बदलने की प्रक्रिया शुरू करदें। जब तक आप कुछ नही करेंगें, आपके परिणाम भी नहीं बदलेंगे।

निष्कर्ष

अगर हमें बेहतर परिणाम चाहिए तो काम करने के तौर तरीकों को बदलना होगा। जरूरत है शुरुआत करने की, अगर हम चलना शुरू ही नहीं करेंगे तो मंजिल से 5 साल बाद भी उतने ही दूर रहंगे जितने की आज हैं। अपने हालाँतो के लिए किस्मत, भगवान औऱ दूसरों को दोष देने से बेहतर है, जिम्मेदारी के साथ हालाँतो को सुधारने की शुरुआत करना। जब तक हम सीखते नहीं हैं, हर काम मुश्किल होता है। बूढ़े के लिए भागना बहुत मुश्किल है, बच्चे के लिए आराम से बैठना बहुत मुश्किल है।

Advertisement

सवाल जवाब

क्या बच्चों की आदतें बदली जा सकती हैं

बच्चे जी कुछ भी सीखते हैं वो उनके आस पास के वातावरण और व्यवहार से सीखते हैं। इसलिये बच्चों में स्थायी परिवर्तन के लिए पहले उनका वातावरण और आपका व्यवहार परिवर्तित करना पड़ेगा। उदाहरण के लिये बच्चे mobile देखना अपने माँ बाप से सीखते हैं।

क्या आत्म नियंत्रण से आदतें बदली जा सकती हैं

इसकी सम्भावना बहुत कम है। क्योंकि आत्म नियंत्रण संतोषजनक नही होता और जो संतोषजनक नही है, वह करने में हमे बहुत परशानी होती है। जो काम हमारी लालसा को शांत करता है, हम वही करते हैं। आत्म नियंत्रण हमारी लालसा को शान्त करने की बजाए, इसको भूलने के लिए कहता है, जबकि ऐसा करना लंबे समय तक सम्भव नही है। इसलिए हम कुछ दिन के लिए बुरी आदतें छोड़ने के बाद दोबारा शुरू कर देते हैं। इसी प्रकार Will Power और Motivation भी आपकी लालसा को शांत नही करते हैं, अतः बुरी आदतों को छोड़ने में इतने कारगर नही हैं।

क्या सज़ा या Punishment से आदतें बदल सकती हैं

जिस काम के इनाम सन्तोषजनक नही होते, वह हमारी आदत नही बनता है। सज़ा से आप इनाम को Unsatisfied बनाते हो, जिससे उस काम के दोबारा होने की संभावना कम हो जाती है। लेकिन यह जरूर सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वह सज़ा काम की तुलना में ज्यादा बुरी नही होनी चाहिए। खासकर बच्चों को जरूरत से ज्यादा दी गयी सज़ा उनको भावनात्मक रूप से कमजोर और अड़ियल बना सकती है।

मुझे किसी आदत को छोड़ने या बनाने में कितना समय लग सकता है

Phillippa Lally यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में एक स्वास्थ्य मनोविज्ञान शोधकर्ता है। यूरोपियन जर्नल ऑफ सोशल साइकोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन में आदतें बदलने में लगने वाले समय का खुलासा किया है।

औसतन, नया व्यवहार बनने में 2 महीने से अधिक समय लगता है – पूरे 66 दिन। यह व्यवहार, व्यक्ति और परिस्थितियों के आधार पर भिन्न हो सकता है। लल्ली के अध्ययन में, लोगों को एक नई आदत बनाने में 18 दिनों से 254 दिनों तक का समय लगा।

आदत बदलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी क्या चीज है

जैसा कि मैंने पहले भी बताया है, मोटिवेशन, will power, आत्म नियंत्रण हमारी लालसा को शांत नही करते हैं। अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए हमें अपने goal से ज्यादा फोकस अपने process पर करना चाहिए।

क्योंकि cricket में हारने वाली ओर जितने वाली दोनो टीमों का लक्ष्य एक ही होता है, जबकि process को बेहतर करने वाली टीम ही जीतती है। अतः शुरुआत करने के लिए मोटिवेशन ठीक है, लेकिन लगातार आगे बढ़ने के लिए हमे process पर ध्यान देना होगा।

आदतें क्या होती हैं और कैसे बनती हैं

Comments

  1. Greetings! Very useful advice within this post! It’s the little changes that make the biggest changes.
    Thanks a lot for sharing!

  2. We are a group of volunteers and opening a new scheme in our community.
    Your website offered us with valuable information to work on. You have done
    a formidable job and our whole community will be grateful to you.

  3. I don’t know if it’s just me or if everyone else encountering problems with your website.

    It seems like some of the written text in your
    content are running off the screen. Can somebody else please comment and let me know if this is happening to them as well?
    This might be a problem with my internet browser because I’ve had this happen before.
    Kudos

Leave a Reply

Your email address will not be published.